🔳फर्नीचर, कम्प्यूटर, अभिलेख समेत काफि सामग्री जलकर राख
🔳आबादी तक पहुंची आग को भी बामुश्किल किया गया काबू
🔳राजकीय जूनियर हाईस्कूल के कमरों तक पहुंच आग ने किया तांडव
🔳गांव के बुजुर्ग, महिलाएं, बच्चे आग बुझाने को जुटे
🔳चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद बामुश्किल आग पर पाया जा सका काबू
((( टीम तीखी नजर की रिपोर्ट)))

बेतालघाट ब्लॉक के बजेडी गांव में जंगल से उठी आग ने तांडव मचा दिया। आग की लपटों ने गांव में स्थित राजकीय जूनियर हाईस्कूल के भवन को चपेट में ले लिया। देखते ही देखते आग कार्यालय व कक्षा कक्षों तक फ़ैल गई। विद्यालय में रखे कागजात व अन्य सामग्री जलकर राख हो गई। चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने बामुश्किल आग पर काबू पाया। आबादी तक पहुंच चुकी आग को भी ग्रामीणों ने बामुश्किल काबू पाया।

मंगलवार को बजेडी़ गांव से सटे जंगल में आग धधक उठी। देखते ही देखते आग ने विकराल रुप ले लिया। आग की लपटों के आबादी की ओर रुख करने से हड़कंप मच गया। गांव के बाशिंदे घरों से बाहर निकल आए। खेतों में काम कर रही महिलाएं भी गांव की ओर दौड़ी। अफरा तफरी के बीच आग बुझाने को अभियान शुरु किया गया। आबादी तक पहुंची आग को काबू ही किया जा सका था की गांव के नजदीक स्थित राजकीय जूनियर हाईस्कूल के भवन लपटों से घिर गया। गांव के लोग विद्यालय में धधकी आग को बुझाने दौड़े। महिलाएं , बुजुर्ग, बच्चे हर कोई पानी लेकर विद्यालय की ओर दौड़े। आग की लपटों से घिर चुके विद्यालय परिसर से उठ रही लपटों ने ग्रामीणों को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया। कक्षा कक्षों व प्रधानाचार्य कक्ष में भीषण आग धधक गई। लोगों ने आग बुझाने का काफि प्रयास किया पर सफलता नहीं मिल सकी आखिरकार ग्रामीणों ने खिड़की दरवाजे तोड़ चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद बामुश्किल आग पर काबू पाया। आग ने कम्प्यूटर, अभिलेख व फर्नीचर जलाकर राख कर डाला। विद्यालय भवन भी क्षतिग्रस्त हो गया। पूर्व ग्राम प्रधान हीरा सिंह बिष्ट, राजेंद्र सिंह कार्की, श्याम सिंह के अनुसार आग ने विद्यालय भवन को भारी नुकसान पहुंचाया दिया है। घटना की सूचना पुलिस व प्रशासन को भी भेजी गई। इस दौरान ग्राम प्रधान दीपा बिष्ट, देवेंद्र सिंह जलाल, मोहन सिंह, दीवान सिंह, राजेंद्र सिंह, भुपेंद्र सिंह, विरेन्द्र सिंह बिष्ट समेत गांव की महिलाएं जुटी रही। नायब तहसीलदार भुवन चंद्र भंडारी, एएसआई हरी राम, वन दरोगा योगेश बोहरा ने मय टीम मौका मुआयना किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *